सावधान! वास्तु के अनुसार आपके बेडरूम में ऐसी चादर बिछी हैं तो अवैध सम्बन्ध बनने का खतरा है…..

1002

वास्तु के अनुसार से घर के हर हिस्से का अपना अलग ही महत्व होता है। अगर घर को वास्तु के अनुसार से बनाया जाता है तो घर का माहौल खुशनुमा होता है और घर में तरक्की होती है। इसके विपरीत अगर घर को वास्तु अनुसार नहीं बनाया जाता है तो घर में बहुत सारी परेशनियाँ आ जाती हैं और घर में अशांति रहती है। घर का प्रत्येक हिस्सा जैसे लिविंग रूम, बीएड रूम, बाथरूम और किचन घर की सबसे महत्वपूर्ण जगह होती है। लिविंग रूम में पूरा परिवार एक साथ बैठकर जहाँ मस्ती करता है और गपसप करता है वहीँ किचन में पुरे घर के लिए खाना बनता है।

एक पति- पत्नी के लिए घर का बेडरूम बहुत मायने रखता है। बेडरूम में पति- पत्नी अपने प्यार के पलों को एक दुसरे से साझा करते हैं। आपस में बैठकर बात करता है और अपने मसले सुलझाता है। पुरे दिन की भाग दौड़ के बाद कुछ पल साथ बिताने के लिए बेडरूम ही होता है और अगर घर का बेडरूम ही सही ना हो तो जीवन नीरस सा हो जाता है। इसलिए वास्तु के अनुसार घर का बेडरूम बहुत ही अच्छा और साफ़ सुथरा होना चाहिए, जिससे दोनों का मन खुश रहे और अपने भावी जीवन के बारे में वह ख़ुशी- ख़ुशी सोच सकें।

जानें वास्तु के अनुसार किस तरह की चादर का प्रयोग बेडरूम में करना चाहिए

यह अक्सर सुना जाता है कि घर के बेडरूम में किस तरह का रंग करवाना चाहिए या घर में किस तरह की तस्वीर लगानी चाहिए जिससे घर का माहौल खुशनुमा बना रहे और दोनों के बीच प्रेम कायम रहे। लेकिन बेडरूम की चादरें भी इसमें एक बहुत बड़ी भूमिका अदा करती हैं। अगर बेडरूम में वास्तु के अनुसार चादर नहीं बिछी हुई है तो पति- पत्नी के बीच प्रेम में कमी हो जाती है और अवैध सम्बन्ध बनने का खतरा रहता है। जानें किस तरह की चादर का प्रयोग बेडरूम में करना चाहिए और किस तरह की चादर को बेडरूम में नहीं बिछाना चाहिए?

1- वास्तु के अनुसार बेड पर साफ़ सुथरी चादरों को ही बिछाना चाहिए और इस बात का ख़ास ख़याल रखना चाहिए की चादर पर सिलवटें ना पड़ी हो।

2- बेडरूम में पशु- पक्षियों की आकृति वाले चादर हसीन उड़ान में सहायक होती हैं और सपने में आपको हसीन चीजें दिखती है, लेकिन यह पति- पत्नी के वैवाहिक जीवन के लिए खतरनाक है। ऐसी चादरों के प्रयोग से में सर दर्द, सर में भारीपन, शारीरिक कमजोरी और उन्माद की प्रवृत्ति ज्यादा देखने को मिलती है।

3- बेड पर भूलकर भी हिंसक पशुओं की आकृति वाली चादर नहीं बिछानी चाहिए, ऐसी चादरें अवैध संबंधों में दिलचस्पी पैदा करती हैं और व्यक्ति के अन्दर क्रोध और हिंसा को भी बढाती हैं। इतना ही नहीं अगर आपके बेड पर शेर और चीते जैसे हिंसक पशुओं की आकृति बनी है तो आपको अनिद्रा की बीमारी भी हो सकती है। पति- पत्नी के बीच तनाव बढ़ जाता है और स्वभाव कटु हो जाता है। इससे वैवाहिक जीवन की शांति ख़त्म हो जाती है।

विस्तर के निचे कोई भी सामान रखने की आदत

4- महिलाओं को अपने विस्तर के निचे कोई भी सामान रखने की आदत होती है, लेकिन वास्तु इसके लिए मना करता है। ऐसा करने से महिला की यौनेच्छा में धीरे- धीरे कमी आने लगती है और ख़त्म हो जाती है।

5- कुछ लोग बेडरूम में बहुत डिज़ाइन वाला बेड रखना पसंद करते हैं, वास्तु के अनुसार बेडरूम में समतल लकड़ी वाला बेड ही रखना चाहिए। इससे नींद अच्छी आती है और यह वंशवृद्धि में भी सहायक होता है। इससे पति- पत्नी के सम्बन्ध भी अच्छे बने रहते हैं और दोनों में ताउम्र प्यार बरकरार रहता है।

6- वास्तु के अनुसार बेडरूम में जो बेड बिछाया गया हो उसके बीच जगह नहीं होनी चाहिए, इससे दोनों के संबंधों में दरार पड़ सकता है। ऐसे बिस्तर पर सोने से यौन इच्छा में कमी और मधुमेह जैसी बीमारी होने का खतरा होता है।

7- बेड पर रुई से बना गद्दा बिछाने से अच्छी नींद के साथ ही यौन आकर्षण भी बना रहता है और दोनों के शारीरिक सम्बन्ध अच्छे होते हैं। रुई से बने गद्दे पर सोने वाले दम्पत्ति की संतान भी स्वस्थ होती हैं। इसके उलट अगर बेड पर सिमर से बना गद्दा बिछा हुआ है तो इससे व्यक्ति की कामुकता बढ़ जाती है और वह अवैध संबंधों की तरफ आकर्षित होता है।

वास्तु का काम घर की नकारात्मक ऊर्जा को सकारात्मक ऊर्जा में बदलना है। अगर आप भी अपने घर में खुशहाल जीवन जीना चाहते हैं तो दिए गए उपायों का प्रयोग करें और खुश रहें।

SHARE